blogid : 314 postid : 1784

हाय रे बिजली: अंधरे में डूबा उत्तर भारत

Posted On: 30 Jul, 2012 न्यूज़ बर्थ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

power cut in North Indiaकोई चीज मूल्यवान है या नहीं इसका पता तब चलता है जब उस चीज से हम या तो दूर रहते हैं या फिर उस चीज को खो देने का डर रहता है. ऐसा ही कुछ हुआ पिछली रात जब पूरे उत्तर भारत में कई घंटों के लिए बत्ती गुल हो गई थी. दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में बिजली की सप्‍लाई पूरी तरह से प्रभावित हुई.


अंधेरे में बिजली नीति


ऐसा बताया जा रहा है कि उत्तरी ग्रिड में खराबी की वजह से सोमवार रात दो बजे से ही छह राज्यों में बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई जो सुबह तक जारी रही. बिजली के न होने से लोगों को रात तो गर्मी में गुजारनी ही पड़ी सुबह भी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ा.


बिजली के चले जाने से उससे चलने वाले हर तरह के उपकरण पूरी तरह ठप हो गए. दिन-रात चलने वाले कारखानों में मशीन बिलकुल शांत हो गए. इसका असर वाहनों की आवाजाही पर भी देखने को मिला. बिजली ठप्प होने के चलते कई ट्रेनें बीच रास्ते में ही रूक गईं. घंटों तक यात्रियों को एक ही जगह ट्रेन चलने का इंतजार करना पड़ा.


अन्य शहरों के मुकाबले राजधानी दिल्ली में इसका असर ज्यादा देखने को मिला. बिजली के न होने से दिल्ली की लाइफ-लाइन समझी जानी वाली मेट्रो की सेवा प्रभावित हुई. सुबह से ही मेट्रो स्टेशनों पर लोग परेशान दिखे. मेट्रो ट्रेनें न चलने की वजह से लोग अपने दफ्तरों और शिक्षण संस्थानों में समय से नहीं पहुंच पाए. बिजली के चले जाने का असर न केवल रेल और मेट्रो पर देखने को मिला बल्कि सड़कों पर भी लोग परेशान दिखे. रेड लाइट के न चलने से ट्रैफिक पुलिस को ट्रैफिक नियंत्रण करने में भी परेशानी हो रही थी लेकिन बिलकुल सुबह का वक्त था इसलिए जाम देखने को कम मिला.


बिजली के न होने से शायद वे लोग इस बात को पूरी तरह से समझ चुके होंगे जो बिजली की बचत बारे में सोचते ही नहीं और गैर जिम्मेदाराना रूप से इसका इस्तेमाल करते हैं.


Power cut in North India, facing a long power cut, major power supply failure, power failure in Northern Grid,Electricity Power Cuts





Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran