blogid : 314 postid : 1862

Mumbai Rain: बारिश के कहर से थरथराई मुंबई

Posted On: 4 Sep, 2012 न्यूज़ बर्थ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Mumbai Heavy Rain 2012बारिश के कहर ने देश के अधिकांश हिस्सों को हिला कर रख दिया है. जहां एक तरफ बारिश से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की दौड़ती हुई जिन्दगी में विराम लग गया है वहीं कमोबेश कुछ इसी तरह की स्थिति जयपुर, दिल्ली तथा उत्तर भारत के अधिकांश राज्यों में देखी जा सकती है. कहीं रुक-रुक कर तो कहीं लगातार बारिश से शहरी क्षेत्रों में बसे लोग इससे रोजाना दो चार हो रहे हैं.


Read: क्या देशद्रोह है ‘राज’ नीति


अब मुंबई को ही ले लीजिए जहां सोमवार शाम से हो रही भारी बारिश मुंबईवासियों के ऊपर इस तरह से कहर बरपा रही है मानों सभी पापों का फल इन्हीं के हिस्से में है. यहां लगातार हो रही बारिश के कारण मौसम विभाग ने मंगलवार अपह्रान 2.12 बजे से हाईटाइड की चेतावनी जारी करते हुए मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी है. आम लोगों को भी समुद्र किनारे न जाने का निर्देश दिया गया है. पुलिस ने आम लोगों के लिए यह एडवाइजरी जारी की है और प्रशासन अलर्ट हो गया है.


मुंबई में बारिश का मतलब केवल ट्रैफिक जाम नहीं है वहां तो यदि लगातार दो घंटे भी बारिश हो गई तो रोड़ से लेकर रेल और हवाई यात्रा में इसका असर साफ तौर पर दिखाई देता है. शहर के निचले इलाकों में पानी का जमावड़ा इतना अधिक हो जाता है कि यही पानी लोगों के घरों में घुसने लगता है. पानी की निकासी न होने की वजह से कई-कई दिनों तक एक ही जगह पानी इकट्ठा हो जाता है. सड़कों पर जगह-जगह पानी होने से कई-कई घंटे एक ही जगह वाहन स्थिर से हो जाते हैं.


मुंबई में हर बार की बारिश ईस्टर्न और वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे पर भारी ट्रैफिक जाम लेकर आता है. सेंट्रल रेल लाइन और वेस्टर्न रेल लाइन जो मुंबई की लाइफलाइन मानी जाती है, लाखों की संख्या में लोग इसी का सहारा लेकर अपने गंत्वय पर पहुंचते हैं, लेकिन लगातार बारिश के चलते ट्रैक पर पानी जमा होने की वजह से लोगों को अपने मंजिल पर पहुंचने में परेशानियां होती हैं.


ऐसा नहीं है कि मुंबईवासियों को इस तरह की परेशानियों का सामना कभी-कभी उठना पड़ता है. जब भी मुंबई में बारिश होती है वह अपने साथ मुंबईवासियों के सामने समस्याओं का पहाड़ खड़ा कर देती है. हर बार की तरह बीएमसी के स्थानीय चुनाव में लोगों के लिए कई वादों और उम्मीदों का पिटारा खोला जाता है लेकिन बाद में वहां का स्थानीय प्रशासन इन्हीं वादों और उम्मीदों से मुंह फेर लेता है.


Read:  Nehru Cup 2012: जीत में कोच-कप्तान का मुख्य योगदान


Tag: Mumbai rain, mumbai rain news, mumbai rain 2012, mumbai rain forecast, rain forecast mumbai india, rain in Mumbai, Heavy rain, Mumbai Rain in Hindi, mumbai rain news in hindi.





Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran