blogid : 314 postid : 2260

सावधान! आपके करीबी ही होते हैं बाल यौन शोषण के अपराधी

Posted On: 13 Feb, 2013 न्यूज़ बर्थ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

child abuseभारत में बाल यौन शोषण एक गंभीर समस्या है. आए दिन देश में ऐसी कई घटनाएं घटती हैं जिनकी जितनी भी भर्त्सना की जाए उतनी ही कम है. बच्चों को डरा धमकाकर उनका यौन शोषण करना न केवल आर्थिक और सामाजिक रूप से कमजोर लोगों की समस्या है बल्कि इसके वह लोग भी शिकार होते हैं जो सुख-सुविधाओं से पूरी तरह से सम्पन होते हैं.


Read: आतंकवादी है, फिर भी राजनीति


दुनिया को अपनी संगीत के जादू से अपनी ओर खींचने वाले सितारवादक रवि शंकर की बेटी अनुष्का शंकर ने कहा है कि बचपन में उन्होंने भी कई तरह के शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न को झेला है. वह भी उस व्यक्ति के हाथों जिस पर उनके अभिभावकों ने आंख मूंद कर भरोसा किया था.


अकसर देखा जाता है कि बच्चों के साथ हो रहे यौन उत्पीड़न को हम या तो अनदेखा कर देते हैं या फिर बात न फैले इसलिए इस मुद्दे को आगे नहीं बढ़ाते. एक शोध में पाया गया है कि बच्चों के साथ यौन उत्पीड़न वही लोग करते हैं जो उनके करीब हैं या फिर वो जो उन्हें जानते हैं. विभिन्न तरह के जागरुकता कार्यक्रम में अभिभावकों को सलाह दी जाती है कि वह अपने बच्चों को किसी भी स्थिति में अकेला न छोड़ें. वैसे बच्चों के साथ केवल घरों में ही शोषण नहीं होता बल्कि कारखानों में काम करने वाले बाल मजदूर और स्कूलों में पढ़ रहे बच्चे भी इसके शिकार होते हैं.


Read: पोप बेनेडिक्ट के जीवन का सफर


मशहूर सितार वादक अनुष्का शंकर ने मंगलवार को कहा “मैं भी बचपन में छेड़छाड़ व विभिन्न प्रकार के शारीरिक शोषण का शिकार हुई. मुझे नहीं पता था, इससे किस प्रकार निपटना है, मुझे नहीं पता था कि इसे कैसे रोका जा सकता था. बतौर महिला मुझे लगता है कि मैं बहुधा भय के साये में रहती हूं, रात में अकेले बाहर निकलने में डरती हूं, घड़ी का समय पूछने वाले व्यक्ति को जवाब देने में डरती हूं. इसी प्रकार की तमाम अन्य बातें हैं, जिनसे मुझे डर लगता है.”


अनुष्का शंकर दुष्कर्म कांड और महिला त्रासदी के खिलाफ ऑन लाइन जागरूकता अभियान शुरू करने जा रही हैं. उनका कहना है कि वह महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों से पूरी तरह वाकिफ हैं. उन्होंने महिलाओं को निमंत्रण दिया है कि वह घर से बाहर निकलें और अपने खिलाफ हो रही हिंसा पर आवाज उठाएं.


Read:

महिलाओं से ज्यादा तो भ्रष्टाचारियों की सुरक्षा पर होता है खर्च

यौन शिक्षा से ही बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही हैं !!

विदेशी कंपनियों के हाथ में भारतीय रक्षा क्षेत्र !!


Tag: child abuse in india, child abuse, Child sexual abuse, Child sexual abuse in Hindi, hindi news. News in Hindi, बाल शोषण, यौन शोषण.




Tags:               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

neha के द्वारा
February 14, 2013

बहुत ही अच्छा लेख

रेखा के द्वारा
February 13, 2013

यह जरूरी है कि लोगों में जागरुकता फैले क्योंकि देश में दरिंदो की संख्या बढ़ गई है.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran