blogid : 314 postid : 771798

बर्गर खाने के चक्कर में कहीं आप मानव मांस तो नहीं खा रहे, यह दिल दहला देने वाली खबर आपकी आंखें खोल देगी

Posted On: 7 Aug, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अगली बार जब आप मैक डोनाल्ड रेस्तरां में बैठकर बीफ हैमबर्गर खा रहे हों तो एक बार ये जरूर सोच लीजिएगा कि कहीं आप मानव मांस तो नहीं खा रहे हैं. ये खबर अविश्वसनीय लग सकती है, पर एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका के ओक्लाहोमा शहर में स्थित मैक डोनाल्ड की मीट फैक्ट्री में मानव मांस पाए गए हैं. मानव मांस के अलावा इस फैक्ट्री के फ्रीजर में घोड़े के मांस भी मिले हैं.


burger


मैक डोनाल्ड का ट्रैक रिकॉर्ड पहले भी अच्छा नहीं रहा है. उसपर कई तरह के गंभीर आरोप लगते रहे हैं. अभी हाल ही में इस बहुराष्ट्रीय कम्पनी के चीन स्थित कुछ रेस्तरां में बासी मांस प्रयोग करने की खबर आई थी. आज भी मैक डोनाल्ड द्वारा अपने कई उत्पादों में ऐसे घटकों का प्रयोग किया जाता है जो रहस्यमयी हैं. कोई नहीं जनता कि इन पदार्थों के स्रोत क्या हैं.


Read:एक अविश्वसनीय बच्चे के जन्म पर पूरी दुनिया में बहस छिड़ गई है


कुछ दिन पहले मैक डोनाल्ड के एक कर्मचारी का ऑडियो रिकॉर्डिंग सामने आई  थी जिसमें वह स्वीकार कर रहा है कि अपने 100 प्रतिशत बीफ हैमबर्गर में मैक डोनाल्ड फिलर के रूप में मानव मांस का प्रयोग करता है. इसके अलावा केंचुए का मांस भी मैक डोनाल्ड द्वारा फिलर के रूप में प्रयोग किया जाता है.


China Fast Food Scandal


ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक़ खाद्य इंस्पेक्टरों द्वारा ओक्लाहोमा शहर के मीट फैक्ट्री में इंसान और घोड़े के मांस पाए गए हैं. उन ट्रकों में भी मानव मांस पकड़ा गया है जो मैक डोनाल्ड के विभिन्न रेस्तरां में पेटिस सप्लाई करने जा रहे थे.


कई रिपोर्टो का कहना है कि खाद्य अधिकारियों ने पूरे अमेरिका के मैक डोनाल्ड रेस्तरां का मुआयना किया और लगभग 90 प्रतिशत रेस्तरां में इंसानी मांस पाया. जबकि घोड़े का मांस 65 प्रतिशत रेस्तरां में पाया गया है.


Read: सात समंदर पार मिले बॉलिवुड स्टार्स को अपने खोये हुए जुड़वा भाई-बहन, देखिए कैसे हुआ यह अचम्भा


लॉयड हैरिसन नाम के एक एफबीआई एजेंट ने हज्लर के रिपोर्टर को बताया कि, “सबसे चिंताजनक बात ये है कि सिर्फ मानव मांस ही नहीं बल्कि बच्चों के मांस पाए गए हैं. अमेरिका भर के मैक डोनाल्ड की फैक्ट्रियों के निरक्षण के दौरान जितने छोटे शरीर के अंग पाए गए हैं वे किसी व्यस्क के नहीं हो सकते हैं. यह वाकई भयानक है.”


मैक डोनाल्ड के उपभोक्ता कंपनी से जवाब मांग रहे हैं. आखिर कितने समय से वह अपने उत्पादों में मानव मांस का प्रयोग कर रही है? वे बच्चे कहां से आए जिनका मांस कंपनी की फक्ट्रियों में मिला है? क्या वे फक्ट्रियों में मृत अवस्था में ही लाए गए थे? उपभोक्ताओं को उम्मीद है कि जांच एजेंसियां सघन और निष्पक्ष जांच करेंगी और इन सभी सवालों के जवाब ढूंढ़ निकाल लेगी.


burger 2


मानव मांस खाने का प्रचलन हजारों साल पुराना है और यह आज भी प्रचलन में है. 2013 में उत्तर कोरिया में एक व्यक्ति को भोजन के लिए अपने बच्चों की हत्या करने के आरोप में मौत की सजा दी गयी थी. कई ऐसी जनजातियाँ हैं जिनकी परंपरा में मानव मांस खाना शुमार है. पर आधुनिक समाज में मानव मांस खाने वाले को मानसिक रूप से बीमार ही कहेंगे.


यह सोचने वाली बात है कि मैक डोनाल्ड अमेरिका जैसे देश में जहां खाद्य वस्तुओं की सुरक्षा और गुणवत्ता के मानक इतने ऊँचे हैं और उनका कड़ाई से पालन भी किया जाता है वंहा ऐसे खेल कर सकती है तो फिर भारत जैसे देश में क्या गुल खिलाती होगी इस अंदाजा होना चाहिए आपको. यहां खाद्य वस्तुओं के सुरक्षा मानक और उसे लागू करवाने वाला तंत्र कितना लचर है यह बताने की जरुरत नहीं है.


Read more:

एक फेयरी टेल लव स्टोरी के हेट स्टोरी में बदलने की पूरी कहानी

बलात्कार करने का ऐसा कारण आपने पहले कभी सुना नहीं होगा

मक्का-मदीना में गैर-मुस्लिम का जाना सख़्त मना है फिर भी इन्होंने मुस्लिम ना होते हुए भी मक्का में प्रवेश किया


Web Title : are-you-eating-human-meat-in-your-burger



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 3.67 out of 5)
Loading ... Loading ...

19 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Hosting के द्वारा
November 8, 2016

The sexual dimorphism evident in the infection rates

sohail के द्वारा
May 11, 2015

1

SACHIDANAND के द्वारा
March 15, 2015

ये तो बड़ा गड़बड़ है मत जाओ भैया

chetan के द्वारा
February 4, 2015

really its very shame full

swadheen के द्वारा
August 10, 2014

strange enough why only Jagran is publishing and no news channel is showing,not possible that every news channel has been paid for not showing .

dharmendra yadav के द्वारा
August 10, 2014

abe shalo jab tumshab gai ghoda bakari adi ki mansh kha shakte ho to phir ye manao kai chij hai khub khao shalo pahale doshre ki phir apne bibi bete ko khao khub khao shalo khate raho

एड.कमलसिंह राजपुरोहित के द्वारा
August 10, 2014

खबर ओर मेकडोनालड दोनो की पुरी जांच की आवश्यकता है, वैसे भी यहा पर  ऐसी कपनि की कोई आवशयकता नही है, बहिषकार ही उतम उपाय है।

Shadab Khan के द्वारा
August 9, 2014

बैन करेा  हमॆशा िलऐ

krishan gupta के द्वारा
August 8, 2014

फग 

Kripal Kashyav के द्वारा
August 8, 2014

Am not sure, what research jagran team do before publishing these types of CRAP.

Kripal Kashyav के द्वारा
August 8, 2014

False news. In fact none of its branch found with even horse meat. Do some googling for true new.

suresh के द्वारा
August 8, 2014

goli mar dena chahai

RADHESHYAM के द्वारा
August 8, 2014

sabka mangal ho

vikram के द्वारा
August 8, 2014

Jab itna hi hai to america macdonal pe bann kyo nahi lagata. Or bharat me iske khilaf koi yachika kyo nahi dayar ho rahi. Ye midia kya dogla hai jo khbar nahi dikhata??

sadguruji के द्वारा
August 8, 2014

यह सोचने वाली बात है कि मैक डोनाल्ड अमेरिका जैसे देश में जहां खाद्य वस्तुओं की सुरक्षा और गुणवत्ता के मानक इतने ऊँचे हैं और उनका कड़ाई से पालन भी किया जाता है वंहा ऐसे खेल कर सकती है तो फिर भारत जैसे देश में क्या गुल खिलाती होगी इस अंदाजा होना चाहिए आपको. यहां खाद्य वस्तुओं के सुरक्षा मानक और उसे लागू करवाने वाला तंत्र कितना लचर है यह बताने की जरुरत नहीं है ! बहुत दुखद और भयानक है ! भारत में स्थित मैक डोनाल्ड के सभी रेस्त्रां की जाँच होनी चाहिए ! यदि तथ्य सही पाये जाते हैं तो इस पर तुरंत पाबन्दी लगे !

    Amit के द्वारा
    August 12, 2014

    beta ,, abhishek bharti ,,,, tainu Rashash ho ,,, tainu kush bhii khaa sakte ho,,, esliye aisi baate kar rahe ho,,,,


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran