blogid : 314 postid : 1006421

140 देशों की जीडीपी से अधिक के राजस्व वाली कंपनियों का काम देखते हैं भारतीय मूल के सीईओ

Posted On: 12 Aug, 2015 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भारत में जन्म लेने वाले ये नागरिक अब दुनिया की दो बड़े ब्रैंड्स के सीईओ है. ये तीनों व्यक्ति अब ग्लोबल टेक्नॉलॉजी सेक्टर के तीन बड़े नाम है. 10 अगस्त सुंदर पिचाई के लिये नयी जिम्मेदारियों को ग्रहण करने का दिन रहा जब चेन्नई में जन्म लेने वाले और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर से स्नातक की उपाधि अर्जित करने वाले सुंदर को प्रोमोट कर गूगल के सीईओ (मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी) के पद पर प्रोन्नत किया गया. गूगल के एंड्रॉयड और क्रोम का व्यवसाय देखने वाले सुंदर ने स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय में प्रशिक्षण हासिल किया है.



CEO of Indian origin


एंड्रॉयड और क्रोम का व्यवसाय देखने वाले सुदंर पिचाई अब उन भारतीय मूल के व्यक्तियों की कतार में जा खड़े हुए हैं जो उन कंपनियों की अध्यक्षता कर रहे हैं जिनका पिछले साल का कुल राजस्व 159.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर है. इसमें सुंदर पिचाई के अलावा माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला और नोकिया के राजीव सूरी है. इन तीनों ब्रैंड का कुल राजस्व चयनित 140 देशों के सकल घरेलू उत्पाद से अधिक है.


Read: कौन है पप्पू? गूगल के पास है इसका जवाब



हैदराबाद में जन्म लेने वाले और मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलॉजी में पढ़ाई करने वाले सत्या नडेला को फरवरी 2014 में माइक्रोसॉफ्ट का सीईओ नियुक्त किया गया था. उन्होंने वर्ष 1992 में माइक्रोसॉफ्ट ज्वाइन किया और सीइओ बनने से पहले कंपनी के क्लाउड डिवीज़न का संचालन कर रहे थे. नडेला की नियुक्ति के दो महीने बाद ही सूरी को नोकिया का सीईओ बनाया गया. वर्ष 1995 में उन्होंने फिनलैंड की कम्पनी में सिस्टम मार्केटिंग मैनेजर के बतौर काम करना शुरू किया था.Next….

Read more:

सावधान! ‘गूगल सर्वे’ के नाम पर आपके स्क्रीन पर भी तो नहीं खुल रहा यह संदेश

भूख के कारण ही मुझे मुकाम हासिल हुआ

इन सारी चीज़ों का जवाब गूगल को भी नहीं पता





Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran