blogid : 314 postid : 1110575

ट्रेन में शौचालय प्रयोग करते समय खुला दरवाजा, रेलवे देगा 1.5 लाख जुर्माना

Posted On: 26 Oct, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

भारतीय रेलवे के शौचालयों के साथ यह काफी पुरानी समस्या रही है कि कुंडियों के खराब होने के कारण दरवाजा ठीक से बंद करने के बावजूद कुंडी खुल जाया करती है. कई बार मुसाफिरों को इसके चलते बेहद शर्मिंदगी वाली स्थिति का सामना करना पड़ता है. ज्यादातर मुसाफिर ऐसे हादसों को नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन गुरुदर्शन लांबा ने इस अपमान को नजरअंदाज नहीं किया. उनकी शिकायत पर उपभोक्ता अदालत ने रेलवे को उन्हें 1.5 लाख जुर्माना चुकाने का फैसला सुनाया.


railway 1


गुरुदर्शन लांबा दिल्ली से दुर्ग(छत्तीसगढ़) की यात्रा भारतीय रेल के एसी 1 कोच में कर रहे थे. टॉयलट का प्रयोग करते समय किसी ने बाहर से दरवाजा खोलने की कोशिश की और वह खुल गया. लांबा इस अपमान को पचा नहीं पाए और उन्होंने रेलवे के खिलाफ कंज्यूमर कोर्ट में इसकी शिकायत दर्ज कराई.


Read: रेलवे स्टेशन पर इस बच्चे के जन्म से क्यों हो उठे सब भावुक


लांबा का दावा था कि उन्होंने दरवाजे को ठीक से बंद किया था बावजूद इसके वह खुल गया. लांबा और उनके वकील ने इस अपमान के एवज में रेलवे के संबंधित विभाग से इसके लिए हर्जाने की मांग की. लांबा के इस दावे पर रेलवे अधिकारियों ने दलील दी की कोच में और भी टॉयलेट थे, वे दूसरे टॉयलट का भी प्रयोग कर सकते थे. लेकिन कोर्ट ने रेलवे अधिकारियों के इन दलीलों को खारिज कर दिया.


railway 2


उपभोक्ता अदालत के जज ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि एसी कोच में सफर करने के एवज में रेलवे किराए के रूप में मोटी रकम वसूल करती है बजाए इसके यात्री को इस तरह की असुविधा का समना करना पड़ा. यह रेलवे की भारी लापरवाही है.


Read: जेल जाने से बचना है तो कभी न करें रेल में ये 10 गलतियां|


कोर्ट ने आदेश दिया कि रेलवे लांबा को 1.5 लाख का जुर्माना दे, साथ ही याचिका के खर्च के तौर पर 10,000 रुपए अतरिक्त दे. Next…


Read more:

गांव वालों के जिम्मे है यह रेलवे स्टेशन, काटते है खुद ही टिकट

खुद चिपक जाती है यहाँ रेल पटरियां, वैज्ञानिकों के लिए आज भी है यह अनसुलझी पहेली

एक साधारण से प्रयोग ने इस छोटे से रेलवे स्टेशन को बनाया देश का खूबसूरत रेलवे स्टेशन



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Etty के द्वारा
May 31, 2016

An ineleligtnt point of view, well expressed! Thanks!


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran