blogid : 314 postid : 1116275

‘रेप शोहरत नहीं बदनामी है, ऐसा करोगी तो जमाने को क्या शक्ल दिखाओगी’

Posted On: 20 Nov, 2015 Others में

Pratima Jaiswal

  • SocialTwist Tell-a-Friend

‘रेप की जो शिकायत है वो बहुत ही बदनामी की बात है लेकिन इस बदनामी को अगर इतनी शोहरत दोगी, तो जमाने को शक्ल कैसे दिखाओगी?’ कथित रूप से रेप पीड़ित लड़की, जब अपनी फरियाद लेकर उत्तर प्रदेश कैबिनेट मंत्री आजम खान के पास गई तो उसे कुछ ऐसी ही हिदायत दी गई. इस रेप पीड़ित मुस्लिम लड़की को मंत्री महोदय से मदद मिलने की बहुत उम्मीद थी इसलिए उसने कानपुर में एक कार्यक्रम में शिरकत करने आए सांसद से गुहार लगानी शुरू कर दी.


ajam khan


इसके बाद तो आजम खान ने बिना लोक-लज्जा की परवाह किए लड़की को नसीहत दी ‘तुम्हारा मामला बहुत गंभीर है लेकिन इस बदनामी को शोहरत का मुद्दा नहीं बनाना चाहिए. अगर ऐसा ही करोगी तो समाज को क्या शक्ल दिखाओगी.’ इसके बाद मीडिया में बात फैलते ही पार्टी और सासंद महोदय की साफ-सफाईयों का दौर शुरू हो गया. वहीं दूसरी तरफ लड़की मंत्री के इस बयान से बेहद हताश नजर आई. उसने रोते हुए कहा ‘मंत्री जी, ने ऐसी भाषा का इस्तेमाल किया जिसे सुनकर मैं फिर उनके पास फरियाद लेकर जाने की हिम्मत नहीं कर पाऊंगी. मुझे उनसे मदद की उम्मीद थी’ ऐसा पहली बार नहीं है जब आजम खान ने रेप और महिलाओं को लेकर ऐसा असंवेदनशील बयान दिया हो. मंंत्री महोदय अपने ऐसे ही बेतुके बयानों को लेकर सुर्खियां बटोरते हुए नजर आते हैं आइए डालते हैं उनके बेतुके बयानों पर एक नजर.


मोबाइल और पोर्न साइट है रेप की वजह

अभी ज्यादा समय नहीं बीता जब ढ़ाई साल की बच्ची के साथ रेप के बाद जिंदा जलाने की घटना पर आजम खान ने बयान दिया था कि ‘ यह बेशक दुखद घटना है लेकिन रेप पर गौर करें तो पता चलता है कि मोबाइल इसकी अहम वजह है. इस पर अश्लील समाग्री देखने से रेप होते हैं.


mobile indecent

Read : रेप से बचने के लिए लड़की ने अपनाया ये हथकंडा!

हम छोटे कुत्ते हैं तो वो भी हैं बड़े कुत्ते

पिछले साल लोकसभा चुनाव से पूर्व आजम ने इशारों-इशारों में बीजेपी पीएम पद के उम्मीदवार मोदी को कुत्ता तक बताने में गुरेज नहीं किया था. उन्होंने गुजरात दंगों के मुद्दे को उठाते हुए ये बात कही थी.


azam-khan_647_071315013356


अमित शाह गुंडा न. 1

पिछले ही साल सांसद महोदय ने एक चुनावी रैली के दौरान अमित शाह को उत्तर प्रदेश में आंतक और डर फैलाने वाला बताया था. उन्होंने अमित शाह को गुंडा न. 1 कहने के साथ उनसे जुड़े कई तरह के अपराधिक मामलों के बारे में भी ज़िक्र किया था.


Amit Shah_0_1_0_0_0_0_0_0_0_0_0_0

Read : “रियल मैन डोंट रेप”, देखिए एक ऐसी सच्चाई जो आपकी भी आंखें खोल देगी

कारगिल फतेह हिन्दू नहीं, मुस्लिम फौजियों के बदौलत

लोकसभा चुनाव से पहले आजम खान ने कारगिल युद्ध को जीतने में हिन्दू फौजियों के योगदान से ज्यादा मुस्लिम फौजियों की अहम भूमिका की बात को कहकर बवाल मचा दिया था. उनके इस बेतुके बयान की आलोचना जमकर हुई थी. इसे जाति-धर्म के आधार पर भारतीय सिपाहियों को बांटने की साजिश करार दिया गया था.


Indianarmy--621x414

आजम खान ऐसे पहले मंत्री नहीं है जो इस तरह के बयान देकर समाज और देश को शर्मसार कर रहे हैं. मंत्रियों द्वारा आए दिन गम्भीर और संवेदनशील मामलों पर बेतुके बयान देना सुर्खियों में बने रहने का हथकंडा बन गया है…Next

Read more :

मुझे शर्म आती है कि मैं एक पुरुष हूं

शशि थरूर की बात समाज की मानसिकता पर एक चोट है !!

क्या बुराई है पोर्न फिल्में देखने में?




Tags:                                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran