blogid : 314 postid : 1136875

दिल्ली में करोड़पति का बेटा इस अजीब शौक के लिए चुराता था लक्जरी कार

Posted On: 5 Feb, 2016 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आलीशान घर, लक्जरी कार और करोड़ों का कारोबार. जिदंगी में और क्या चाहिए, लेकिन कहते हैं न सबकुछ होने पर भी अगर इंसान की नियत ही न बदलें तो इन सब ऐशो-आराम का क्या फायदा. अपनी ऐसी ही नियत या फिर यूं कहिए कि एक अजीबों-गरीब शौक के चलते एक व्यक्ति को जेल की हवा खानी पड़ी. दिल्ली के छ्तरपुर में रहने वाले 27 साल के उमेश को लक्जरी कारें चुराने का शौक था. आपको जानकार हैरानी होगी कि उमेश उर्फ मोंटी के पिता की करोड़ों की प्रॉपटी है.


man with car1

Read : ‘तुमने मेरी कार ओवरटेक की, अब मैं तुम्हारा करूंगा रेप’


साथ ही वे सिक्योरिटी एजेंसी भी चलाते हैं. ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि उमेश को पैसों से जुड़ी हुई कोई परेशानी नहीं थी. फिर भी वो कारोबारियों की लक्जरी कारों को ‘मास्टर की’ से चुराता था. 12वीं तक पढ़ा हुआ उमेश पिछले 2 सालों में गुड़गांव और एनसीआर के इलाकों से दर्जन भर कार चुरा चुका है. बीते बुधवार उमेश को सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन से अरेस्ट किया गया. पकड़े जाने पर अपने इस अजीब शौक के बारे उमेश ने बताया कि उसे बचपन से लक्जरी कारें बहुत पसंद थी. इसलिए वो जो भी नई कार देखता उसे चुराने के लिए उसका दिल मचलने लगता था.


Read : इतने कैश के साथ कार खरीदने पहुंचा यह व्यक्ति, हैरान रह गए कर्मचारी


ऐसे में वो इन लक्जरी कारों को 5-6 दिन तक सड़क पर जी भरकर दौड़ाता था और जब उसका मन भर जाता तो, वो उन कारों को बेचता नहीं था बल्कि कहीं भी पार्किग एरिया में खड़ा कर देता था. इसके बाद वो नई लक्जरी कार चुराने निकल पड़ता था. आरोपी ने अपना जुल्म कबूल करते हुए बताया कि वो शादीशुदा है और उसे पैसों की कोई जरूरत नहीं थी. उसके पास दिल्ली में ही 7 प्लाट्स भी है. उसे बस लक्जरी कारों का शौक था. ये शौक कब उसकी आदत बन गई उसे पता ही नहीं चला. फिलहाल आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है और पूछताछ जारी है…Next


Read more

इन्होंने नौकरी छोड़ी, कार बेच दी, लोन लिया सिर्फ इसलिए ताकि भारत स्वच्छ बन सके

आग उगलती है यह बिल्डिंग, पिघल गई पास खड़ी एक कार

आपकी कार की स्पीड के साथ इस सड़क पर बजता है राष्ट्रगान



Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran