blogid : 314 postid : 1140980

104 साल की उम्र में भी किया ऐसा काम, पीएम मोदी ने मंच पर किए चरणस्पर्श

Posted On: 22 Feb, 2016 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

हमारे देश में चरणस्पर्श करने को एक संस्कार के रूप देखा जाता है. अपने से बड़ों या किसी महान व्यक्ति का सम्मान करते हुए उनके चरणस्पर्श किए जाते हैं. लेकिन कभी-कभी कुछ लोग इतने विरले होते हैं जिनके कामों के बारे में सुनते ही गर्व का अनुभव होता है. बल्कि छत्तीसगढ़ में एक कार्यक्रम के दौरान ऐसी स्थिति देखने को मिली, जब प्रधानमंत्री मोदी एक महिला से इतने प्रभावित हो गए कि मंच पर सबके सामने ही पैर छूने लगे. दरअसल प्रधानमंत्री मोदी छत्तीसगढ़ में नक्सल प्रभावित जिले राजनादंगांव के कुरूभात गांव में ‘आरअर्बन मिशन’ के लांच के लिए पहुंचे थे.


prime minister in chattisgarh


Read : कपिल शर्मा के शो में पीएम मोदी !


इस कार्यक्रम में 104 साल की कुंवर बाई भी आई हुई थी. जिन्होंने अपने कड़े प्रयास से गांव में शौचालय बनवाकर, खुले में शौच करने से सभी को मुक्ति दिलवाई. वास्तव में, कुंवर बाई ने शौचालय बनवाने के लिए अपनी रोजी-रोटी का आधार 8-10 बकरियों को बेच दिया. सबसे पहले उन्होंने अपने घर में दो शौचालय का निर्माण किया. उसने गांववालों को अपने घर में बने शौचालय को दिखाकर इसका महत्व बताया. धीरे-धीरे उनकी मेहनत रंग लाने लगी और गांववालों ने उनकी बातों से प्रभावित होकर अपने-अपने घरों में शौचालय बनवाना शुरू कर दिया.


swacch bharat mission

Read : मोदी और नीतीश को चमकाने वाले इस व्यक्ति को मिला ये बड़ा इनाम


कुछ ही सालों बाद स्थिति ऐसी हो गई है कि अब गांव में एक भी घर ऐसा नहीं बचा, जहां शौचालय नहीं है. आपको जानकर हैरानी होगी कि 104 वर्ष की वृद्ध महिला कुंवर बाई न ही टीवी देखती है और न ही अखबार पढ़ती है. बल्कि वे बताती हैं कि उनको तो याद भी नहीं कि उन्होंने आखिरी बार टीवी या अखबार कब पढ़ा था. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी के ‘स्वच्छ भारत मिशन’ के तहत शौचालय निर्माण का संदेश उन तक कैसे न कैसे पहुंच ही गया. इस संदेश से वो इतनी प्रभावित हुई कि शौचालय बनवाने के लिए पैसों का जुगाड़ करने के लिए बकरियां बेच दी. साथ ही दूसरे लोगो को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित किया…Next


Read more

नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी और केजरीवाल का मजाक उड़ाते वीडियो आजकल पॉपुलर हो रहे हैं, आप भी देखें

इंडिया में हैशटैग वार, मीडिया बना निशाना

क्या होना चाहिए ‘आरक्षण’ का आधार ?



Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran