blogid : 314 postid : 1142675

बिहार में नकल को रोकने के लिए उठाया गया यह कदम

Posted On: 29 Feb, 2016 Hindi News में

Shakti Singh

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बिहार की उस पिछली खबर से आप जरूर वाकिफ होंगे जिसमें पिछले साल मार्च महीने में एक तस्वीर सोशल मीडिया में खूब वायरल हुई. उस पिछली तस्वीर में अपने परिजनों की सहायता से 10वीं बोर्ड की परीक्षा देने आए परीक्षार्थी नकल कर रहे थे. तस्वीर में परिजन नकल करवाने के लिए स्कूल की बिल्डिंग की तीसरी मंजिल पर चढ़ हुए थे. उस तस्वीर की वजह से नीतीश सरकार की बहुत ही किरकिरी हुई थी.


अब जरा नीचे दिए गए इस तस्वीर पर नजर दौड़ाइए!!! ध्यान से देखने पर आप पाएंगे कि पिछली बार से सबके लेते हुए स्थानीय प्रशासन ने परीक्षार्थियों के लिए नकल न मारने के लिए ये कड़े नियम अपनाए हैं. हालांकि ये कड़े नियम सेना द्वारा अपनाया गया.


exam


दरअसल बिहार के मुजफ्फरपुर में रविवार को सेना में क्लर्कों की भर्ती की परीक्षा हुई थी जिसमें कैंडिडेट्स को खुले मैदान में बिना पैंट, शर्ट और बनियान के परीक्षा देने को कहा गया. तस्वीर में देख सकते हैं कि परीक्षार्थी केवल अंडरवियर पर परीक्षा दे रहे हैं.


सेना के क्लर्क एग्जाम में इस तरह 1150 कैंडिडेट्स ने नंगे बदन परीक्षा दिया. सवाल यह उठता है कि नकल को रोकने के लिए सेना द्वारा अपनाया गया यह नियम क्या सही माना जा सकता है?…Next


Read more:

वायरल हो रही बोर्ड की परीक्षा में नकल की इस तस्वीर के पीछे ये है सच्चाई

शिक्षक को खुश करने और परीक्षा में ज्यादा अंक लाने के लिए विद्यार्थियों को करना पड़ा ये सब

70 वर्ष की उम्र में परीक्षा देकर किया अपने अधूरे सपने को साकार



Tags:           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

ak verma के द्वारा
March 1, 2016

No its very same full


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran