blogid : 314 postid : 1189233

मेट्रो स्टेशन पर फिल्मी स्टाइल में इस जवान ने बचाई बच्ची की जान

Posted On: 13 Jun, 2016 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कहते हैं अगर मन में जज्बा और बुलंद हौसलें हो तो इंसान क्या कुछ नहीं कर सकता. ऐसी ही अनोखी मिसाल देखने को मिली दिल्ली के कालकाजी मेट्रो स्टेशन पर, जहां पर एक सीआईएसएफ कांस्टेबल की सूझबूझ ने एक बच्ची को मौत के मुंह में जाने से बचा लिया. दरअसल, विकास टिर्की नाम के ये सीआईएसएफ कांस्टेबल स्टेशन पर आने वाले यात्रियों की चेकिंग कर रहे थे कि तभी उन्होंने एक बच्ची की चीख सुनी. सभी लोग एस्कलेटर की तरफ देख रहे थे और उनकी नजरें भी उस तरफ टिक गई.



metro station

उन्होंने देखा कि एक आठ साल की बच्ची एस्कलेटर पर लटक रही है उसके पैर हवा में झूल रहे थे. करीब 15 फीट हवा में लटकी ये बच्ची आसपास खड़े लोगों से बचाओ-बचाओ की पुकार कर रही थी, लेकिन वहां खड़े हुए लोगों को कुछ भी नहीं सूझ रहा था. बच्ची का हाथ इतनी तेजी से फिसल रहा था कि अगर कोई सीढ़ियों के रास्ते से ऊपर जाता तो शायद बच्ची को बचा पाना मुमकिन न होता. विकास एक्सलेटर की तरफ जा ही रहे थे कि बच्ची 15 फीट ऊंचाई से नीचे की तरफ फिसल गई.


metro station 1



सीआईएसएफ ने पूरी हिम्मत से आगे बढ़ते हुए बच्ची को कैच कर लिया. अगर समय रहते विकास आगे नहीं बढ़ते तो बच्ची फिसल कर सीधा फर्श पर गिर जाती. हादसे के बाद से बच्ची बहुत डरी हुई है लेकिन उसे बिल्कुल भी चोट नहीं आई है. वहीं दूसरी तरफ बच्ची के घरवाले इस सीआईएसएफ जवान का शुक्रिया अदा करते हुए नहीं थक रहे हैं.

Read : लड़के का सिर काटकर मेट्रो स्टेशन पर घंटों घूमती रही महिला, हत्या के पीछे बताई ये चौंका देने वाली वजह


मौके पर मौजूद एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि बच्ची कुछ महिलाओं के साथ मेट्रो स्टेशन पर आई थी. चेकिंग के बाद बच्ची के साथ आए सभी लोग अंदर चले गए. इतने में सभी बातों में व्यस्त हो गए. उधर बच्ची एक्सलेटर पर चढ़ने लगी और थोड़ी देर में बच्ची डिसबेलैंस हो गई और ये घटना घट गई. जवान की सूझबूझ और हिम्मत ने एक दर्दनाक दुर्घटना होने से बचा लिया…Next


Read more

यात्रियों से भरी दिल्ली मेट्रो आधे घंटे के लिए हो गई थी गायब, किसी को नहीं थी जानकारी

पत्नी की जिद मानने वाले पुरुष होते हैं ज्यादा संतुष्ट !!

हरियाणा में शादी के लिए लड़की नहीं मिली तो पहुंचा केरल



Tags:                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

HC के द्वारा
June 21, 2016

Know your web site or blog’s page hits using: webhitcount(dot)com


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran