blogid : 314 postid : 1264654

इंडिया गेट पर तीन अलग तरीकों से सलामी दे देते हैं जवान, ये हैं कारण

Posted On: 2 Oct, 2016 मस्ती मालगाड़ी,Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

उरी हमले के 11 दिन बाद एलओसी पर सर्जिकल स्ट्राइक करके भारत ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया. गुरुवार को पूरे दिन ये खबर छाई रही. इस खबर ने सबको खुश कर दिया. पूरी दुनिया में भारतीय सेना के इस कदम की चर्चा हो रही है. लोग भारतीय सेना की इस दिलेरी से इतने खुश दिखाई दे रहे हैं कि इंटरनेट पर भारतीय सेना में भर्ती और उनसे जुड़े हुए रोचक तथ्य सर्च किए जा रहे हैं.


army 2


आपने भी सेना के अलग-अलग विभाग के सिपाहियों की ड्रेस और अन्य पहलुओं पर गौर किया होगा. क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि आर्मी के अलग-अलग विभागों के अफसर का सैल्यूट (सलाम) करने का तरीका अलग-अलग है. साथ ही इसका कारण भी है. पिछले दिनों इंडिया गेट पर मौजूद अमर जवान ज्योति पर सेना के तीन जवानों की अलग-अलग तरीके से सैल्यूट करते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी. चलिए, हम आपको बताते हैं इसके पीछे की कहानी.


भारतीय थल सेना

भारतीय थल सेना में सैल्यूट करने का तरीका है हथेलियों को पूरा खुला छोड़कर सामने खड़े व्यक्ति की तरफ करना है.

इस तरह की सलामी का मतलब है कि सलामी देने वाले जवान के पास कोई भी हथियार नहीं है और उसपर आसानी से भरोसा किया जा सकता है.


army 3


भारतीय वायुसेना

वायुसेना में सलामी देने का तरीका भी थल सेना से मिलता-जुलता है. जिसमें हथेलियां खुली रहती हैं. बस इसमें हाथों को 45 डिग्री के कोण पर मोड़कर रखा जाता है.

इस तरह की सलामी का अर्थ है कि जमीन से 45 डिग्री की दूरी आसमान को छूने का संकेत है. गर्व के साथ आसमान से भी ऊंची उड़ान भरने का लक्ष्य है.


army 4



भारतीय नौसेना

ये सलामी देने के सबसे पुराने तरीकों में से एक है. इस तरह की सलामी में हथेली नीचे की तरफ झुकी होती है.

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन सलामी का ये तरीका मध्यकालीन युग से शुरू हुई. जब जवान परम्परागत जहाजों पर काम किया करते थे.


army 5

असल में जहाज में कोई भी खराबी आने पर ये जवान खुद ही जहाज की गड़बड़ियों को दूर किया करते थे, जिससे उनके हाथों में जहाज का तेल, ग्रीस आदि लग जाया करता था और वो अपने से बड़े अधिकारियों को सलामी देते वक्त हथेली को अंदर की तरफ झुका लिया करते थे, जिससे उनके हाथों की गंदगी को कोई देख न सके और अधिकारियों को अपमान न महसूस हो…Next


Read More :

आईएसआईएस से लड़ेगा हल्क, भर्ती हो रहा है इस देश की आर्मी में

सेना में चौंकाने वाले इस सच को महिला सैनिक ने किया उजागर

ये वो दस देशों की सेना है जिनके कामों पर आप भी कर सकते हैं गर्व



Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments




अन्य ब्लॉग

latest from jagran