blogid : 314 postid : 1292806

MLA ने बांटे 500 और 1000 के नोटो की गड्डियां, लोग हुए हैरान

Posted On: 11 Nov, 2016 में

Shakti Singh

  • SocialTwist Tell-a-Friend

MLA ने बांटे 500 और 1000 के नोटो की गड्डियां, लोग हुए हैरान
कई दशक बाद यह मौका आया है जब पूरा देश प्रधानमंत्री और उनके द्वारा लिए गए फैसलों के बारे चार्चा कर रहा है. अधिकत्तर लोग पीएम के नोट बंदी (500 और 1000 के नोट) के फैसले की तारीफ कर रहे हैं. इस फैसले से जहां बाजार में गहमा-गहमी का माहौल है वहीं देश के भ्रष्ट नेताओं में बेचैनी है. बहुत से ऐसे नेता हैं, जो न तो मोदी के इस फैसले की तारीफ कर पा रहे हैं और न ही खुलकर आलोचना कर पा रहे हैं.
जिस दिन से मोदी ने यह फैसला लिया भ्रष्ट नेता और अधिकारी इस फिराक में हैं कि कैसे अपनी अवैध संपत्ति को ठिकाने लगाया जाए. उनके लिए तो ‘इधर कुंआ उधर खाई’ वाली स्थिति है. लेकिन कर्नाटक के कुछ नेता और विधायक अपनी जमा की गई संपत्ति को बर्बाद होते देखना नहीं चाहते, इसलिए उन्होंने एक तरकीब निकाली है!
दरअसल कर्नाटक के कोलार में बंगारपेट के एमएलए और कांग्रेस नेता एसएन नारायण स्वामी क्षेत्र के गरीब लोगों को 3 लाख का लोन दे रहे हैं. कोलार सोने की खान के लिए मशहूर है. हैरानी की बात यह है कि उनके साथ बैंक प्रेसीडेंट बयलाहल्ली गोविंद गौड़ा भी मौजूद हैं. आप तस्वीरों में 500 और 1000 रुपए की मोटी-मोटी ग़ड्डियां सजी हुई देख सकते हैं. जैसे ही यह तस्वीर इंटरनेट पर अपलोड की गई उसे वायरल होते देर नहीं लगी. हालांकि यह पैसा कालेधन का है इसका खुलासा नहीं हुआ है.
लेकिन इस तस्वीर को देखने के बाद कई सारे सवाल मन में उभर रहे हैं…
1. क्या यह पैसा कालेधन का है?
2. नेताओं के पास इतने पैसे कहां से आए?
3. नोट बांटने के दौरान बैंक प्रेसीडेंट बयलाहल्ली गोविंद गौड़ा क्या कर रहे हैं?
इस खबर का दूसरा पहलू यह है कि नोट बांटने का यह आयोजन सोमवार को हुआ जबकि नोट बंद करने की घोषणा प्रधानमंत्री ने मंगलवार रात को की थी.  तथा इस आजोजन की जानकारी वहां की अखबार में भी दी गई थी. इसके अलावा तस्वीरों को ध्यान से देखने पर इसमें 100-100 के नोट की गड्डियां भी हैं अगर 500 -1000 के नोट खपाने थे तो ये लोग 100 की गड्डियां लेकर मंच पर क्यों जाते?

कई दशक बाद यह मौका आया है जब पूरा देश प्रधानमंत्री और उनके द्वारा लिए गए फैसलों के बारे चार्चा कर रहा है. अधिकत्तर लोग पीएम के नोट बंदी (500 और 1000 के नोट) के फैसले की तारीफ कर रहे हैं. इस फैसले से जहां बाजार में गहमा-गहमी का माहौल है, वहीं देश के भ्रष्ट नेताओं में बेचैनी है. बहुत से ऐसे नेता हैं, जो न तो मोदी के इस फैसले की तारीफ कर पा रहे हैं और न ही खुलकर आलोचना कर पा रहे हैं.


mla20

जिस दिन से मोदी ने यह फैसला लिया भ्रष्ट नेता और अधिकारी इस फिराक में हैं कि कैसे अपनी अवैध संपत्ति को ठिकाने लगाया जाए? उनके लिए तो ‘इधर कुंआ उधर खाई’ वाली स्थिति है. लेकिन कर्नाटक के कुछ नेता और विधायक अपनी जमा की गई संपत्ति को बर्बाद होते देखना नहीं चाहते, इसलिए उन्होंने एक तरकीब निकाली है!


mla01

दरअसल कर्नाटक के कोलार में बंगारपेट के एमएलए और कांग्रेस नेता एसएन नारायण स्वामी अपने क्षेत्र के गरीब लोगों को 3 लाख का लोन दे रहे हैं. कोलार सोने की खान के लिए मशहूर है. हैरानी की बात यह है कि उनके साथ बैंक प्रेसीडेंट बयलाहल्ली गोविंद गौड़ा भी मौजूद हैं. आप तस्वीरों में 500 और 1000 रुपए की मोटी-मोटी ग़ड्डियां सजी हुई देख सकते हैं. जैसे ही यह तस्वीर इंटरनेट पर अपलोड की गई वायरल होते देर नहीं लगी. हालांकि यह पैसा कालेधन का है इसका खुलासा नहीं हुआ है.


Read: तो क्या होता अगर ये नेता होते अभिनेता


mla02


लेकिन इस तस्वीर को देखने के बाद कई सारे सवाल मन में उभर रहे हैं…


1. क्या यह पैसा कालेधन का है?

2. नेताओं के पास इतने पैसे कहां से आए?

3. नोट बांटने के दौरान बैंक प्रेसीडेंट बयलाहल्ली गोविंद गौड़ा क्या कर रहे हैं?


mla03

वैसे इस खबर का दूसरा पहलू यह भी है कि नोट बांटने का यह आयोजन सोमवार को हुआ जबकि नोट बंद करने की घोषणा प्रधानमंत्री ने मंगलवार रात को की थी तथा इस आजोजन की जानकारी वहां के अखबारों को भी थी. इसके अलावा तस्वीरों को ध्यान से देखने पर इसमें 100-100 के नोट की गड्डियां भी हैं, अगर 500 -1000 के नोट खपाने थे तो ये लोग 100 की गड्डियां लेकर मंच पर क्यों जाते?...Next


Read More:

मुकेश अंबानी के पास है इतनी दौलत, खरीद सकते हैं ये देश

अरब दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति ने मुसलमानों पर बयान देने वाले अमेरिकी नेता को दिया ये जवाब

435 करोड़ की जेट, 10 बंगले का मालिक है ये दुनिया का सबसे अमीर एक्टर





Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran